नींद पूरी नहीं होने पर दिल के दौरे का ख़तरा

  • 12 मार्च 2013
Image caption अच्छी नींद नहीं लेने पर दिल के दौरे का ख़तरा बढ़ सकता है

अगर आप ठीक से नहीं सो पाते हैं, आपको रात में नींद नहीं आती है तो आपको कभी भी दिल का दौरा पड़ सकता है.

यूरोपियन हॉर्ट जर्नल में प्रकाशित एक शोध अध्ययन का यही दावा है. नार्वे यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नालॉजी में बीते ग्यारह साल के दौरान 50 हजार लोगों पर ये अध्ययन हुआ है.

इस अध्ययन के मुताबिक कई रात तक ठीक से नहीं सो पाने वाले लोगों का दिल ठीक से नहीं धड़कता और कभी भी वह काम करना बंद कर सकता है.

इस अध्ययन में 20 से 89 साल की उम्र के लोगों को शामिल किया गया, ये भी ध्यान रखा गया कि अध्ययन में शामिल लोगों को पहले से हृदय संबंधी शिकायत नहीं हो.

तीन गुना ज़्यादा ख़तरा

जिन लोगों को नींद ठीक से नहीं आती है, उन लोगों में देखा गया वे काफी थके थके लगते हैं और उनका दम जल्दी फूलने लगता है.

इस शोध के दौरान शामिल लोगों से पूछा गया कि उन्हें सोने में कोई तकलीफ तो नहीं है और क्या रात की नींद के बाद वे सुबह में तरोताजा महसूस करते हैं.

इसके बाद यह पाया गया कि जिन लोगों की नींद पूरी नहीं हो पाता है उन्हें दिल का दौरा पड़ने की आशंका सामान्य तौर पर नींद पूरा करने वाले लोगों के मुकाबले तीन गुना ज्यादा होती है.

हालांकि अभी तक खराब नींद और दिल के दौरे में के बीच के संबंध के बारे में पता नहीं चल पाया है. शोधकर्ता इसे भी ध्रूमपान, मोटापा, अनिद्रा और हृदय संबंधी मुश्किलों से जोड़कर देख रहे हैं.

Image caption कई बीमारियों को आमंत्रण देती है अनिद्रा

शोधकर्ताओं ने इस बाबत और भी लंबे समय तक के अध्ययन की जरूरत पर बल दिया है.

इस शोध अध्ययन के लेखक डॉक्टर लॉगसैंड ने कहा, “हम नहीं जानते हैं कि अनिद्रा से दिल का दौरा पड़ने में कोई सीधा संबंध है, लेकिन अगर ऐसा है तो अच्छी बात होगी, क्योंकि इससे हम दिल के दौरे के ख़तरे को कम कर सकते हैं.”

लॉगसैंड कहते हैं, “अगर हम लोग नींद की समस्या के बारे में कुछ और ज़्यादा जानकारी जुटाते हैं तो दिल के दौर पर काबू पाने में मदद मिल सकती है.”

उन्होंने कहा, “अगर आप अनिद्रा के शिकार हैं तो आपके शरीर से स्ट्रेस हार्मोन निकलता है जिसका हृदय पर खराब असर पड़ता है.”

अच्छी नींद बेहद जरूरी

इसी शोध दल ने आम लोगों में अनिद्रा और दिल के दौरे पर भी अध्ययन किया है.

अगर आपकी नींद पूरी नहीं होती तो यह डायबिटीज और अवसाद को भी आमंत्रण देने जैसा है.

यूनिवर्सिटी ऑफ शेफील्ड के सीनियर क्लीनिकल लेक्चरर डॉ टिम चिको कहते हैं, “अनिद्रा और हृदय के काम करना बंद करने में संबंध तो है लेकिन यह साबित नहीं होता है कि अनिद्रा की वजह से ही दिल के दौरे पड़ते हैं.”

टिम चिको कहते हैं, “अनिद्रा कोई अच्छी स्थिति नहीं है, लेकिन बेहतर जीवनशैली से इसे काफी हद तक कम किया जा सकता है. आप वजन घटाकर और ध्रूमपान छोड़कर इस पर काबू पा सकते हैं.”

ब्रिटिश हॉर्ट फाउंडेशन के सीनियर कार्डिक नर्स जूने डेविसन ने कहा, “ इस अध्ययन में अनिद्रा और दिल के दौरे के बीच संबंध होने की बात कही जा रही है लेकिन इसका मतलब ये नहीं अनिद्रा दिल के दौरे का कारण है.”

वैसे डेविसन ने कहा, “वैसे यह पहले से ही जानी हुई बात है कि अच्छी नींद मानसिक, शारीरिक और मानसिक शांति के लिए जरूरी है.”

संबंधित समाचार