'सेक्स स्कैंडल' से जुड़ा कार्डिनल भी चुनेगा पोप को

  • 13 मार्च 2013
कार्डिनल रोजर माहोनी
कार्डिनल रोजर माहोनी पोप चुनने की प्रक्रिया में हिस्सा ले रहे हैं, उन पर यौन शोषण के आरोपी पादरियों को बचाने का आरोप है.

लॉस एंजेलेस के कैथोलिक आर्चडॉयोसिस एक पूर्व पादरी फ़ादर माइकल बेकर के चार यौन शोषण के मामलों के निपटारे के लिए लगभग एक करोड़ डॉलर यानी लगभग 54 करोड़ रूपए के बराबर का भुगतान करेंगे.

हाल ही में जारी किए गए दस्तावेज़ों के पता चलता है कार्डिनल रोजर माहोनी को पता था कि पादरी माइकल बेकर ने यौन शोषण किया, लेकिन उन्हें फिर से उसी जगह भेज दिया गया, जहां उन पर फिर से दुर्व्यवहार करने के आरोप है.

दोनों पक्षों के बीच इस मामले को उस समय निपटाया गया है जब कैथोलिक चर्च के कार्डिनल, बेनेडिक्ट 16 वें के इस्तीफे के बाद नए पोप को चुनने के लिए बैठक कर रहे हैं.

यौन शोषण के आरोप

कार्डिनल रोजर माहोनी इस सम्मेलन में हिस्सा ले रहे है. लगभग दस हज़ार से ज़्यादा अमरीकी कैथोलिक लोगों ने एक याचिका पर हस्ताक्षर कर कार्डिनल रोजर माहोनी से इस सम्मेलन में हिस्सा न लेने का आग्रह किया था.

कार्डिनल रोजर माहोनी पर आरोप है कि उन्होंने बच्चों के यौन शोषण के आरोपों वाले पादरी का बचाव किया है.

वे अमरीका के सबसे बड़े कैथोलिक आर्चडॉयोसिस लॉस एंजेलेस के लोकप्रिय आर्च बिशप रहे हैं.

2011 में सेवानिवृत्त होने से पहले वो लगातार 26 सालों तक 50 लाख कैथोलिक समुदाय का प्रतिनिधित्व करते रहे है.

दोषी पादरियों का बचाव

दोनों पक्षों के बीच समझौते के तहत कोई भी पक्ष दोषी नही माना गया है. यानी किसी ने भी अपनी गलती स्वीकार नही की है.

लेकिन अदालत के आदेश के बाद हाल ही में चर्च की ओर से सार्वजनिक की गई फ़ाइलों से इस बात का पता चलता है कि कार्डिनल रोजर माहोनी ने तमाम अभियुक्त पादरियों को कानून से फंदे से बचाया.

इन पादरियों में से एक बेकर भी हैं, जिन्हें 1986 में मानसिक इलाज के लिए चर्च के मनोचिकित्सा केंद्र में भेजा गया था और बाद में उन्हें मंत्रालय में वापस आने की अनुमति दी. वहाँ उन्होंने फिर से यौन शोषण किया.

समझौता

99 लाख डॉलर का ये भुगतान उन चार यौन पीड़ितों के लिए हैं, जिन्होंने उन पर यौन शोषण के आरोप लगाए है.

समाचार एजेंसी एपी का कहना है कि आरोप लगाने वाले दो भाइयों में से प्रत्येक को 40 लाख डॉलर दिए जाएंगे. इसके अलावा अन्य दो लोगों को दस-दस लाख डॉलर मिलेंगे.

वॉशिंगटन में बीबीसी संवाददाता जेन लिटिल का कहना है कि ये विशेष रूप से कार्डिनल रोजर के लिए बड़ी शर्मिंदगी की बात है.

कार्डिनल माहोनी ने माइकल बेकर को "सबसे बड़ी गलती" कहा है.

उनका कहना है, "हम लंबे समय से कहते आ रहे है कि हमने माइकल बेकर के साथ गंभीर गलतियाँ की हैं और जो कुछ भी बेकर ने किया उसके लिए हम भी ज़िम्मेदार है.''

संबंधित समाचार