श्रीनगर में सीआरपीएफ़ कैंप पर चरमपंथी हमला

  • 13 मार्च 2013
Image caption भारत प्रशासित जम्मू और कश्मीर मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला के मुताबिक़ सीआरपीएफ़ के पांच जवान भी इस घटना में मारे गए हैं.

जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में चरमपंथियों ने घात लगाकर सीआरपीएफ़ के कैम्प पर हमला कर दिया है जिसमें पाँच जवानों सहित सात लोग मारे गए हैं.

राज्य के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के मुताबिक़ सीआरपीएफ़ के पांच जवान भी इस घटना में मारे गए हैं. श्रीनगर में मौजूद बीबीसी संवादाता रियाज़ मसरूर के मुताबिक हमला करने वाले दो चरमपंथी भी जवाबी कार्रवाई में मारे गए हैं.

इस कैंप के पास ही राज्य पुलिस के मकान हैं और एक स्कूल.

इलाके में अभी भी रह-रह कर गोलीबारी हुई रही है और वहाँ बख्तरबंद वाहन देखे जा सकते हैं. पुलिस और सीआरपीएफ ने इस इलाके को चारों तरफ से घेर लिया है.

घटनास्थल से आ रही सूचना के मुताबिक़ सीआरपीएफ़ के कई जवान गंभीर रूप से घायल हो गए बताए जा रहे हैं. ख़बरों के अनुसार यह एक आत्मघाती हमला था.

घटनास्थल पर अब भी आपा-धापी मची हुई है और किसी भी बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पा रही है.

सुरक्षा अधिकारी इस पूरे इलाके के आस-पास एक बड़ा तलाशी अभियान आरंभ कर चुके हैं.

श्रीनगर में पिछले कुछ समय से इस तरह के हमले बंद थे और राज्य में सीआरपीएफ़ कानून व्यवस्था में राज्य पुलिस की मदद कर रही थी.अपनी इसी मांग के समर्थन में आज अलगाववादी संगठनों ने कश्मीर में आम हड़ताल का आवाहन भी किया है.

जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ समय से लगातार अफज़ल गुरु के शव को कश्मीर लाए जाने की मांग को ले कर कई स्तरों पर आंदोलन चल रहा है.

संबंधित समाचार